Saturday, June 25, 2022
Home Corona Virus कोविड-19 महामारी से निपटने के लिए पीसीएमसी द्वारा अपनाई गई कार्यनीतियां और...

कोविड-19 महामारी से निपटने के लिए पीसीएमसी द्वारा अपनाई गई कार्यनीतियां और समाधान

कोविड-19 महामारी से निपटने के लिए पीसीएमसी द्वारा अपनाई गई कार्यनीतियां और समाधान

पिंपरी चिंचवाड़ पुणे शहर की सीमा का विस्‍तार और पुणे मेट्रोपोलिटन क्षेत्र का भाग है। यह एक ऐसा शहर है, जिसका निर्माण एक औद्योगिक केंद्र और प्रा‍थमिक रूप से पुणे के लिए एक सपोर्ट टाउनशिप के रूप में किया गया था, लेकिन अब वह विकास की राह पर अग्रसर एक प्रमुख शहर के रूप में उभर रहा है। पिछले कुछ वर्षों में पिंपरी की आबादी और साथ ही साथ आवासीय क्षमता में भी वृद्धि देखी गई है। जनसंख्या में वृद्धि होने के साथ ही अपशिष्ट की मात्रा में भी वृद्धि होती है। पिंपरी चिंचवाड़ नगर निगम ने अपशिष्ट प्रबंधन और स्वच्छता संबंधी सेवाओं को उत्‍कृष्‍ट रूप से निष्‍पादित किया है। अभी हाल ही में,पीसीएमसीने कोविड-19 महामारी के खिलाफ अपनी जंग में तत्‍परता और सतर्कता प्रदर्शित करते हुए ध्‍यान आकृष्‍ट किया है।

कोविड-19 महामारी से निपटने के लिए पीसीएमसी द्वारा अपनाई गई कार्यनीतियां और समाधान
कोविड-19 महामारी से निपटने के लिए पीसीएमसी द्वारा अपनाई गई कार्यनीतियां और समाधान
कोविड-19 महामारी से निपटने के लिए पीसीएमसी द्वारा अपनाई गई कार्यनीतियां और समाधान

पीसीएमसी ने वायरस फैलने पर काबू पाने के लिए कई तरह की अभिनव और महत्वपूर्ण पहल की हैं, लेकिन घटनाओं, प्रगति और बदलावों की निगरानी के लिए नियंत्रण कक्ष बनाए बिना इस महामारी के खिलाफ युद्ध लड़ पाना निरर्थक है। इसी बात को ध्यान में रखते हुए पीसीएमसी ने एक वॉर रूम स्थापित करने का निर्णय लिया। यह कार्य पिंपरी चिंचवाड़ स्मार्ट सिटी लिमिटेड के तहत किया गया। इस वॉर रूम की स्‍थापना पीसीएमसी में कोविड की स्थिति का उचित प्रबंधन करने के लिए की गई है और यह जीआईएस मैपिंग, डेटा विश्लेषण, क्‍वारंटीन परिवारों की निगरानी आदि जैसे साधनों का उपयोग करता है।संबंधित नागरिकों की अधिकारियों तक सीधे पहुंच बनाने को प्रोत्साहित करने के लिए एक हैल्पलाइन नंबर भी शुरु किया गया है। वॉर रूम का उपयोग यह सुनिश्चित करने के लिए किया जा रहा है कि इन सभी सवालों और प्रश्नों का उत्तर पेशेवरों द्वारा दिया जा सकता है। विशेष कर मौजूदा संवेदनशील समय में,जब ऑनलाइन सामग्री पर फेक न्‍यूज हावी है, ऐसे में यह बेहद महत्वपूर्ण है।

Text Box: 'Near-Me' Feature
कोविड-19 महामारी से निपटने के लिए पीसीएमसी द्वारा अपनाई गई कार्यनीतियां और समाधान

Text Box: Online Assessment Formपीसीएमसी ने इस महामारी की स्थिति से निपटने के लिए प्रौद्योगिकी का एक प्रभावी उपकरण के रूप में उपयोग किया है। ऐप के उपयोग से लेकर जीआईएस टूल्‍स  द्वारा मॉनिटरिंग और मॉनिटरिंग डैशबोर्ड तक पीसीएमसी शहर में कोविड की ​​स्थिति की उचित निगरानी और ट्रैकिंग के लिए डिजिटल तकनीक का उपयोग करने में सक्षम रहा है। दक्ष कामकाज से भी नगर निगम द्वारा बेहतर निर्णय लेने का मार्ग भी प्रशस्‍त हुआ है।

पीसीएमसी के भंडार में उपलब्ध सभी डिजिटल समाधानों में से, पीसीएमसी स्मार्ट सारथी मोबाइल एप्लिकेशन सही मायने सबसे उल्‍लेखनीय रहा है। सर्वप्रथम, ऐप में कोविड -19 सेल्फ-असेसमेंट टेस्ट है। यह पीसीएमसीक्षेत्र में रहने वाले नागरिकों के लिए एक ऑनलाइन सेल्फ-असेसमेंट टेस्‍ट  है।

इस टेस्‍ट या परीक्षण को “जोखिम मूल्यांकन मानदंड” के अनुरूप  तैयार किया गया है, जिसके माध्यम से प्रश्नों के उत्तर के आधार पर किसी भी नागरिक के स्वास्थ्य जोखिम की पहचान की जा सकती है।यह परीक्षण न केवल नागरिकों के लिए बल्कि निगम के लिए भी फायदेमंद है क्योंकि इसकी मदद से यूएलबी प्रभावी रूप से ऑनलाइन डेटा एकत्र कर सकते हैं, जिसका ठीक से विश्लेषण करने के बाद कार्य योजना तैयार करने और जोखिमों को कम करने के लिए प्रभावी कदम उठाया जा सकता है।

दूसरा, यहऐप क्‍वारंटीन मूवमेंट चेक से लैस है। यह क्‍वारंटीन किए गए रोगियों के भौगोलिक स्थान की पहचान करने के इरादे सहित उनको साथ जोड़े रखने और सर्वेक्षण करने का एक तरीका है। यदि रोगी का स्थान चिन्हित स्थान (वर्तमान स्थान) से 100 मीटर से अधिक है, तो उस क्षेत्र के संबंधित स्वास्थ्य कार्यकर्ता को इस बारे मेंऑटोमेटिक अपडेट भेजा जाता है। तीसरा, पीसीएमसी ने ऐप के माध्यम से एक अभियान शुरू किया है।

इस अभियान के माध्यम से, वे नागरिकों से स्‍वेच्‍छा से राहत उपाय करने की अपील करते हैं। यह ऑनलाइन अभियान स्वयंसेवियों का डेटा एकत्र करता है, जो पीसीएमसी की आगे की कार्ययोजना में सहायक होगा। अंतिम  और सबसे महत्वपूर्ण बातयह है कि यह  ऐप ‘नियर-मी ’फीचर से युक्‍त है।यह आस-पास के अस्पतालों, सरकारी कार्यालयों, बाजारों आदि जैसे स्थानों को दिखाता है जहां कामकाज हो रहा है और नागरिकों द्वारा उन तक पहुंच बनाई जा सकती है।

यह जरूरतमंद लोगों के लिए आस-पास के मुफ्त भोजन वितरण केंद्रों और आश्रय स्‍थलों को भी दर्शाता है। वर्तमान में, 40+ निःशुल्क भोजन वितरण केंद्र, 9 होम शेल्टर, 35+ आपातकालीन औषधालय, 50+ किराना स्टोर जो होम डिलीवरी प्रदान करते हैं, सूचीबद्ध किए गए हैं। पीसीएमसी इस खंड में और अधिक जानकारी जैसे किराना, दवाइयों, सब्जियों जैसी आवश्यक दुकानों और कोविड -19 के परीक्षण और उपचार के लिए अधिकृत अस्पतालों के पते और संपर्क विवरण जोड़ने की भी योजना बना रहा है।

जहां एक ओर यह सुनिश्चित करना बेहद महत्वपूर्ण है कि नागरिक सामाजिक दूरी का ध्‍यान रखें और अपने घरों के भीतर ही रहें, वहीं साथ ही अग्रिम मोर्चे पर डटकर सेवा कर रहे लोगों की देखभाल करना भी उतना ही महत्वपूर्ण है। इस प्रकार, हमारे स्वच्छ्ता योद्धाओं की सुरक्षा को ध्‍यान में रखते हुए पीसीएमसी ने सभी सफाई कर्मचारियों के लिए विशेष व्यक्तिगत सुरक्षा उपकरण (पीपीई) का प्रावधान किया है। इसके साथ ही, स्वच्छता कर्मचारियों को सामान्‍य सार्वजनिक स्थानों पर कीटाणुशोधन और घर-घर जाकर कचरा संग्रहण करने और कचरे का निपटान करने  के लिए दिशानिर्देशों और एसओपी के प्रावधानों सहित नियमित निर्देश भी दिए गए हैं।

पीसीएमसी नियमित रूप से विभिन्न मीडिया चैनलों – सोशल मीडिया, स्थानीय मीडिया – प्रिंट और टीवी के माध्यम से जागरूकता फैला रहा है और अपनी गतिविधियों के बारे नवीनतम जानकारी का प्रसार कर रहा है। इसके साथ ही, सभी कचरा संग्रहण वाहनों पर लाउडस्‍पीकर लगाए गए हैं। उनका उपयोग कोविड के बारे में जागरूकताफैलाने, एहतियाती स्वच्छता प्रबंधन, सरकारी सलाह आदि जैसे विविध विषयों पर ऑडियो क्लिप बजाने के लिए किया जा रहा है, जोयह दर्शाता है कि पीसीएमसीशिक्षा और अंततः अपने नागरिकों को कोविड-19के खतरे से बचाने के लिए समर्पित है।

कोविड-19 महामारी से निपटने के लिए पीसीएमसी द्वारा अपनाई गई कार्यनीतियां और समाधान

पिंपरी ने हमेशा ही वैविध्‍यपूर्ण और उदार भावना का प्रदर्शन किया है। यह देखकर अत्‍यंत हर्ष हो रहा है कि महाराष्ट्र का यह उपनगर शहर इस वैश्विक महामारी के बीच अपने उत्‍साह को बरकरार रखे हुए है और सही मायने में स्वच्‍छता और स्वस्थता की संस्कृति को अपनाने के लिए हर संभव प्रयास कर रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

5 कारें जो बन सकती हैं आपकी पहली पसंद: माइलेज, मेंटेनेंस से सेफ्टी रेटिंग तक, आपके बजट पर खरी उतरेंगी ये कारें; अभी ट्राइबर...

5 कारें जो बन सकती हैं आपकी पहली पसंद: माइलेज, मेंटेनेंस से सेफ्टी रेटिंग तक, आपके बजट पर खरी उतरेंगी ये कारें;...

महंगाई का मार: इस महीने अब तक 7वीं बार बढ़े पेट्रोल-डीजल के दाम, दिल्ली में पेट्रोल 103.54 और डीजल 92.12 रुपए पर पहुंचा

महंगाई का मार: इस महीने अब तक 7वीं बार बढ़े पेट्रोल-डीजल के दाम, दिल्ली में पेट्रोल 103.54 और डीजल 92.12 रुपए पर...

RBI की मॉनेटरी पॉलिसी LIVE: रिजर्व बैंक ने ब्याज दरों में नहीं किया कोई बदलाव, रेपो रेट 4% पर और रिवर्स रेपो रेट 3.35%...

RBI की मॉनेटरी पॉलिसी LIVE: रिजर्व बैंक ने ब्याज दरों में नहीं किया कोई बदलाव, रेपो रेट 4% पर और रिवर्स रेपो...

लालू की पाठशाला: पार्टी कार्यकर्ताओं से कहा- आंदोलन करो-जेल भरो, मुकदमा से मत डरो

लालू की पाठशाला: पार्टी कार्यकर्ताओं से कहा- आंदोलन करो-जेल भरो, मुकदमा से मत डरो   सार लालू प्रसाद मंगलवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के...

Recent Comments