Saturday, June 25, 2022
Home COVID-19 पंचायती राज दिवस पर पीएम मोदी ने ग्राम स्वराज पोर्टल और ऐप...

पंचायती राज दिवस पर पीएम मोदी ने ग्राम स्वराज पोर्टल और ऐप की शुरुआत की

पंचायती राज दिवस पर पीएम मोदी ने ग्राम स्वराज पोर्टल और ऐप की शुरुआत की


       कोरोना वायरस के चलते  पीएम मोदी ने सभी ग्राम पंचायतों के प्रमुखों से वीडियो कॉल के जरिए बात की  आज पंचायती राज दिवस है । ग्राम पंचायतों ने कोरोना वायरस के रोकने के लिए बहुत बड़ी भूमिका निभाई है इसके अलावा गरीबों और मजदूरों तक खाना पहुंचाने में भी बहुत बड़ी भूमिका निभाई है मोदी ने सभी को पंचायती राज दिवस कि शुभकामनाएं भी दी ।इस मौके पर पीएम नरेंद्र मोदी ने ग्राम स्वराज पोर्टल और ऐप की शुरुआत की इस पोर्टल के जरिए सभी ग्राम पंचायतों की समस्याओं का आसानी से समाधान किए जा सकेगा साथ ही सभी सूचनाएं  एक जगह पर एकत्रित रहेगी ।

     प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने संबोधन करते हुए बहुत सी बातें कहीं   कोरोना  से हमें सबक मिला है कि अब हमें आत्मनिर्भर होना काफी जरूरी है ।  कोरोना महामारी के चलते सभी के कार्य करने के तरीकों में बहुत ज्यादा परिवर्तन  आ गया है अब हम सब एक दूसरे के सामने रहकर वार्तलाब  नहीं कर सकते हैं आज पंचायती राज दिवस के मौके पर स्वराज पहुंचाने का अवसर होता है कोरोना संकट के बीच अब इसकी जरूरत  ज्यादा हो गई है , कोरोना वायरस की वजह से हर तरह मुसीबतें आ गई है लेकिन इस से हमें यह संदेश मिला है की हमें आत्मनिर्भर बनना पड़ेगा बिना आत्मनिर्भर बने ऐसे संगठनों को झेल पाना मुश्किल  है । आज बदली हुई परिस्थितियों ने हमें आत्मनिर्भर बनना याद दिलाया है ग्राम पंचायतों का मजबूत रोल है इससे लोकतंत्र भी मजबूत होगा ।साथ ही पीएम मोदी ने कहा कि आपसे 5 से 6 साल पहले देश के सिर्फ 100 पंचायत ब्रॉडबैंड सेवा से जुड़ी थी लेकिन आज सवा लाख पंचायतों तक यह सुविधा पहुंच गई है प्रधानमंत्री ने यह भी कहा कि जिन वेबसाइट को शुरू किया गया है इसके जरिए गांवों तक जानकारी पहुंचाने में बहुत ज्यादा मदद मिलेगी ।

     पीएम मोदी ने कहा कि स्वामित्व योजना में ड्रोन के माध्यम से पूरे गांव की संपत्ति का लेखाजोखा दिया जाएगा और स्वामित्व का प्रमाणपत्र दिया जाएगा ।इससे स्वामित्व को लेकर गांवों में जो झगड़े होते हैं वह खत्म हो जाएंगे और स्वामित्व होने से संपत्ति के आधार पर बैंक से लोन लिया जा सकेगा।  पीएम मोदी ने कहा कि महाराष्ट्र, उत्तर प्रदेश,  उत्तराखंड कर्नाटक सहित 6 राज्योंं में इसे शुरू किया जा रहा है।इसके बाद इसमें सुधार करके पूरे देश में लागू कर दिया जाएगा।

        महामारी के चलते देश के सभी कार्य वीडियो कांफ्रेंस के जरिए ही हो रहे हैं और इससे पहले भी प्रधानमंत्री वीडियो कॉल  कांफ्रेंस के जरिए सभी को संभोधित भी कर चुके हैं ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

5 कारें जो बन सकती हैं आपकी पहली पसंद: माइलेज, मेंटेनेंस से सेफ्टी रेटिंग तक, आपके बजट पर खरी उतरेंगी ये कारें; अभी ट्राइबर...

5 कारें जो बन सकती हैं आपकी पहली पसंद: माइलेज, मेंटेनेंस से सेफ्टी रेटिंग तक, आपके बजट पर खरी उतरेंगी ये कारें;...

महंगाई का मार: इस महीने अब तक 7वीं बार बढ़े पेट्रोल-डीजल के दाम, दिल्ली में पेट्रोल 103.54 और डीजल 92.12 रुपए पर पहुंचा

महंगाई का मार: इस महीने अब तक 7वीं बार बढ़े पेट्रोल-डीजल के दाम, दिल्ली में पेट्रोल 103.54 और डीजल 92.12 रुपए पर...

RBI की मॉनेटरी पॉलिसी LIVE: रिजर्व बैंक ने ब्याज दरों में नहीं किया कोई बदलाव, रेपो रेट 4% पर और रिवर्स रेपो रेट 3.35%...

RBI की मॉनेटरी पॉलिसी LIVE: रिजर्व बैंक ने ब्याज दरों में नहीं किया कोई बदलाव, रेपो रेट 4% पर और रिवर्स रेपो...

लालू की पाठशाला: पार्टी कार्यकर्ताओं से कहा- आंदोलन करो-जेल भरो, मुकदमा से मत डरो

लालू की पाठशाला: पार्टी कार्यकर्ताओं से कहा- आंदोलन करो-जेल भरो, मुकदमा से मत डरो   सार लालू प्रसाद मंगलवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के...

Recent Comments