Saturday, June 25, 2022
Home Corona Virus डॉ. जितेंद्र सिंह ने कोविड-19 के बाद डीओपीटी,डीएआरपीजी एवं डीओपीपीडब्ल्यू द्वारा किए...

डॉ. जितेंद्र सिंह ने कोविड-19 के बाद डीओपीटी,डीएआरपीजी एवं डीओपीपीडब्ल्यू द्वारा किए गए कार्यों की समीक्षा की

डॉ. जितेंद्र सिंह ने कोविड-19 के बाद डीओपीटी,डीएआरपीजी एवं डीओपीपीडब्ल्यू द्वारा किए गए कार्यों की समीक्षा की

केंद्रीय पूर्वांत्तर क्षेत्र विकास (डोनर) राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार), प्रधानमंत्री कार्यालय, कार्मिक, लोक शिकायत, पेंशन, परमाणु ऊर्जा एवं अंतरिक्ष राज्य मंत्री डॉ. जितेंद्र सिंह ने आज कोविड-19 के बाद तीन विभागों द्वारा किए गए कार्यों के संबंध में परस्पर संवादमूलक वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये डीओपीटी, डीएआरपीजी एवं डीओपीपीडब्ल्यू की समीक्षा बैठक की। इस महामारी से लड़ने के लिए विभागों की तैयारी की समीक्षा करने के अतिरिक्त, मंत्री ने अधिकारियों एवं कर्मचारियों से कहा कि इस अवधि के दौरान काम बिल्कुल प्रभावित नहीं होना चाहिए।

डॉ. जितेंद्र सिंह ने कोविड-19 के बाद डीओपीटी,डीएआरपीजी एवं डीओपीपीडब्ल्यू द्वारा किए गए कार्यों की समीक्षा की

उल्लेखनीय है कि डॉ. जितेंद्र सिंह ने 1 अप्रैल, 2020 को पोर्टल https://darpg.gov.in. पर कोविड-19 की शिकायतों पर नेशनल मोनिटरिंग डैशबोर्ड लॉन्च किया था। कोविड-19 पर सीपीजीआरएएम में प्राप्त लोक शिकायतों के निपटान के संबंध में सभी केंद्रीय मंत्रालयों/विभागों को परिपत्र जारी किए गए थे। कोविड-19 लोक शिकायत मामलों पर 1 अप्रैल, 2020 से दैनिक रिपोर्ट अधिकारसंपन्न समूह-10, प्रधानमंत्री कार्यालय, मंत्रियों के अधिकारसंपन्न समूह और कार्मिक, लोक शिकायत एवं पेंशन राज्य मंत्री को प्रस्तुत किए गए।

12 अप्रैल, 2020 तक सरकार ने 1.57 दिन के औसत निपटान समय के साथ कोविड-19 से संबंधित 7000 से अधिक लोक शिकायतों का समाधान किया था। कोविड-19 से संबंधित शिकायतों के अधिकतम समाधान वाले मंत्रालय/विभाग हैं विदेश मामले मंत्रालय (1625 शिकायतें), वित्त मंत्रालय (1043 शिकायतें) एवं श्रम मंत्रालय (751 शिकायतें)।1315 शिकायतें/प्रति दिन का शीर्ष निपटान 8 अप्रैल, 2020 एवं 9 अप्रैल, 2020 को अर्जित किया गया।

डॉ. जितेंद्र सिंह ने यह भी संतोष जताया कि कोविड-19 से लड़ने के लिए डीओपीटी के ई-लर्निंग प्लेटाफार्म (https://igot.gov.in) पर अभी तक 71,000 से अधिक व्यक्ति नामांकित हो चुके हैं जिसे पिछले सप्ताह लॉन्च किया गया था तथा लगभग 27,000 उम्मीदवारों ने पाठ्यक्रम पूरा कर लिया है। लक्षित समूह में चिकित्सक, नर्स, पैरामेडिक्स, हाईजीन कार्यकर्ता, टेक्निशियन, ऑक्जीलरी नर्सिंग मिडवाइव्स (एएनएम), केंद्र एवं राज्य सरकार के अधिकारी, सिविल डिफेंस अधिकारी, विभिन्न पुलिस संगठन, नेशनल कैडेट कोर्स (एनसीसी), नेहरू युवा केंद्र संगठन (एनवाईकेएस), नेशनल सर्विस स्कीम (एनएसएस) इंडियन रेड क्रास सोसाइटी (आईआरसीएस), भारत स्काउंट्स एंड गाइड्स (बीसीजी) और अन्य स्वयंसेवक शामिल हैं।

डॉ. जितेंद्र सिंह ने कोविड-19 के बाद डीओपीटी,डीएआरपीजी एवं डीओपीपीडब्ल्यू द्वारा किए गए कार्यों की समीक्षा की
पाठ्यक्रम का नाम#पाठ्यक्रम में नामांकित (जारी/आंशिक रूप से पूर्ण)उम्मीदवारों का#वैसे उम्मीदवारों का जिन्होंने पाठ्यक्रम पूरा कर लिया है#वैसे उम्मीदवारों काजिन्होंने टेस्ट दिया हैअभी तक नामांकित कुल संख्या
कोविड-19 के बेसिक्स92001863385311063
नैदानिक प्रबंधन कोविड-191533311821564
एनसीसी कैडेटों के लिए कोविड-19 प्रशिक्षण17596121741566529770
आईसीयू केयर एवं वेंटिलेशन प्रबंधन115618511341
संक्रमण नियंत्रण एवं बचाव109914601245
पीपीई के जरिये संक्रमण रोकथाम169751512212
प्रयोगशाला नमूना संग्रहण एवं परीक्षण666113161779
कोविड-19 मामलों का प्रबंधन (एसएआरआई, एआरडीएस एवं सेप्टिक शाक7821471929
कोविड-19 रोगियों की मनोवैज्ञानिक देखभाल214498703131
क्वारांटाइन एवं आइसोलेशन378385216024635
ट्रेनिंग आनबोर्डिंग एमओवाईए1807345805264
ट्रेनिंग आनबोर्डिंग एमओएचएफडब्ल्यू45283801290
ट्रेनिंग आनबोर्डिंग एमओडी2742554808290
कुल44657268572146671514
     
कुल करेंट यूनिक पंजीकृत यूजर्स   32371

यह प्लेटफार्म प्रत्येक लर्नर को उसके कार्यस्थल या घर पर और उसकी पसंद के किसी भी डिवाइस को क्यूरेटेड, भूमिका विशिष्ट कंटेंट की प्रदायगी करता है। आईजीओटी प्लेटफार्म की डिजाइन जनसंख्या के परिमाण के अनुरूप बनाई गई है और यह आने वाले सप्ताहों में लगभग 1.50 करोड़ श्रमिकों एवं स्वयंसेवकों को प्रशिक्षण प्रदान करेगा। कोविड के बेसिक्स, आईसीयू केयर एवं वेंटिलेशन प्रबंधन, क्लिनिकल प्रबंधन, पीपीई के जरिये संक्रमण रोकथाम, संक्रमण नियंत्रण एवं बचाव, क्वारांटाइन एवं आइसोलेशन, प्रयोगशाला नमूना संग्रहण एवं परीक्षण, कोविड-19 मामलों का प्रबंधन, कोविड-19 प्रशिक्षण जैसे विषयों पर नौ (9) पाठ्यक्रमों के साथ आईजीओटी पर इसे आरंभ किया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

5 कारें जो बन सकती हैं आपकी पहली पसंद: माइलेज, मेंटेनेंस से सेफ्टी रेटिंग तक, आपके बजट पर खरी उतरेंगी ये कारें; अभी ट्राइबर...

5 कारें जो बन सकती हैं आपकी पहली पसंद: माइलेज, मेंटेनेंस से सेफ्टी रेटिंग तक, आपके बजट पर खरी उतरेंगी ये कारें;...

महंगाई का मार: इस महीने अब तक 7वीं बार बढ़े पेट्रोल-डीजल के दाम, दिल्ली में पेट्रोल 103.54 और डीजल 92.12 रुपए पर पहुंचा

महंगाई का मार: इस महीने अब तक 7वीं बार बढ़े पेट्रोल-डीजल के दाम, दिल्ली में पेट्रोल 103.54 और डीजल 92.12 रुपए पर...

RBI की मॉनेटरी पॉलिसी LIVE: रिजर्व बैंक ने ब्याज दरों में नहीं किया कोई बदलाव, रेपो रेट 4% पर और रिवर्स रेपो रेट 3.35%...

RBI की मॉनेटरी पॉलिसी LIVE: रिजर्व बैंक ने ब्याज दरों में नहीं किया कोई बदलाव, रेपो रेट 4% पर और रिवर्स रेपो...

लालू की पाठशाला: पार्टी कार्यकर्ताओं से कहा- आंदोलन करो-जेल भरो, मुकदमा से मत डरो

लालू की पाठशाला: पार्टी कार्यकर्ताओं से कहा- आंदोलन करो-जेल भरो, मुकदमा से मत डरो   सार लालू प्रसाद मंगलवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के...

Recent Comments