Thursday, September 29, 2022
Home राज्य बिहार बिहार उपचुनाव: तारापुर और कुशेश्वर अस्थान विधानसभा सीटों पर राजद ने उतारे अपने उम्मीदवार,...

बिहार उपचुनाव: तारापुर और कुशेश्वर अस्थान विधानसभा सीटों पर राजद ने उतारे अपने उम्मीदवार, कांग्रेस को दिया झटका

बिहार उपचुनाव: तारापुर और कुशेश्वर अस्थान विधानसभा सीटों पर राजद ने उतारे अपने उम्मीदवार, कांग्रेस को दिया झटका

 

सार

राजद के प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह ने रविवार को संयुक्त रूप से संवाददाता सम्मेलन को संबोधित कहा कि नीतीश कुमार की पार्टी जदयू द्वारा जीती गई बिहार विधानसभा की दो सीटों तारापुर और कुशेश्वर अस्थान के लिए उपचुनाव होने सत्ताधारी विधायकों के निधन के कारण आवश्यक हो गए हैं।

ख़बर सुनें

राष्ट्रीय जनता दल ने बिहार विधानसभा की दो सीटों तारापुर और कुशेश्वर अस्थान पर हो रहे उपचुनाव के लिए रविवार को अपने उम्मीदवार के नामों की घोषणा कर दी है। राजद के प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह, राष्ट्रीय महासचिव आलोक मेहता और राज्य प्रवक्ता मृत्युंजय ने रविवार को संयुक्त रूप से संवाददाता सम्मेलन को संबोधित किया। इसी दौरान तारापुर तथा कुशेश्वर अस्थान के लिए क्रमशः अरुण कुमार साह और गणेश भारती के नामों की घोषणा की गई।

 

राज्य के सीएम नीतीश कुमार की पार्टी जदयू द्वारा जीती गई बिहार विधानसभा की दो सीटों तारापुर और कुशेश्वर अस्थान के लिए उपचुनाव होने सत्ताधारी विधायकों के निधन के कारण आवश्यक हो गए हैं। राजग के सभी घटक दलों के नेताओं ने दो दिन पहले एकजुटता प्रदर्शित करते हुए संयुक्त रूप से अपने गठबंधन के उम्मीदवारों की घोषणा की थी जबकि पांच विपक्षी पार्टियों के महागठबंधन का नेतृत्व करने वाले राजद ने अपने बूते पर पार्टी प्रत्याशियों की घोषणा की है।

पिछले साल विधानसभा चुनाव में दरभंगा जिले में पड़ने वाली आरक्षित सीट कुशेश्वर अस्थान कांग्रेस के हिस्से में आयी थी और उसके उम्मीदवार 7,000 से कम मतों के अंतर से हार गए थे।

हालांकि कांग्रेस ने राजद द्वारा एकतरफा उम्मीदवार घोषित किए जाने पर अबतक कोई प्रतिक्रिया नहीं दी है, पर पार्टी सूत्रों ने पुष्टि की है कि विधानसभा चुनाव में उम्मीदवार अशोक राम या उनके परिवार के किसी करीबी सदस्य को मैदान में उतारने की उसकी योजना है।

राजद पार्टी के सूत्रों ने कहा कि दोनों सीटों पर चुनाव लड़ने का फैसला विधानसभा सीटों पर महागठबंधन में शामिल कांग्रेस के निराशाजनक प्रदर्शन के कारण लिया गया है। विधानसभा चुनाव में कांग्रेस के हिस्से में 70 सीटें थीं लेकिन उनमें से जीत सिर्फ 20 सीटों पर ही मिली थी।

पार्टी के अति पिछड़ा प्रकोष्ठ के राष्ट्रीय महासचिव निखिल आनंद ने राजद पर इसी बहाने कांग्रेस को उसकी हैसियत बताने का आरोप लगाते हुए कहा, राजद पहले से ही इस बात को लेकर परेशान है कि कांग्रेस लगातार उसकी छत्रछाया से बाहर निकलने के लिए मशक्कत कर रही है। कांग्रेस द्वारा कन्हैया कुमार को पार्टी में शामिल कराना इसी रणनीति का हिस्सा है। कन्हैया के कांग्रेस में आने के बाद से राष्ट्रीय जनता दल बहुत ज्यादा हकलान महसूस कर रही है।

उन्होंने आरोप लगाया, ऐसा नहीं है कि राजद ने कांग्रेस की उपेक्षा की है बल्कि राजद ने यह ठान लिया कि तेजस्वी यादव किसी भी तरह से कन्हैया के साथ मंच साझा नहीं करना चाहिए।

विस्तार

राष्ट्रीय जनता दल ने बिहार विधानसभा की दो सीटों तारापुर और कुशेश्वर अस्थान पर हो रहे उपचुनाव के लिए रविवार को अपने उम्मीदवार के नामों की घोषणा कर दी है। राजद के प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह, राष्ट्रीय महासचिव आलोक मेहता और राज्य प्रवक्ता मृत्युंजय ने रविवार को संयुक्त रूप से संवाददाता सम्मेलन को संबोधित किया। इसी दौरान तारापुर तथा कुशेश्वर अस्थान के लिए क्रमशः अरुण कुमार साह और गणेश भारती के नामों की घोषणा की गई।

 

राज्य के सीएम नीतीश कुमार की पार्टी जदयू द्वारा जीती गई बिहार विधानसभा की दो सीटों तारापुर और कुशेश्वर अस्थान के लिए उपचुनाव होने सत्ताधारी विधायकों के निधन के कारण आवश्यक हो गए हैं। राजग के सभी घटक दलों के नेताओं ने दो दिन पहले एकजुटता प्रदर्शित करते हुए संयुक्त रूप से अपने गठबंधन के उम्मीदवारों की घोषणा की थी जबकि पांच विपक्षी पार्टियों के महागठबंधन का नेतृत्व करने वाले राजद ने अपने बूते पर पार्टी प्रत्याशियों की घोषणा की है।

पिछले साल विधानसभा चुनाव में दरभंगा जिले में पड़ने वाली आरक्षित सीट कुशेश्वर अस्थान कांग्रेस के हिस्से में आयी थी और उसके उम्मीदवार 7,000 से कम मतों के अंतर से हार गए थे।

हालांकि कांग्रेस ने राजद द्वारा एकतरफा उम्मीदवार घोषित किए जाने पर अबतक कोई प्रतिक्रिया नहीं दी है, पर पार्टी सूत्रों ने पुष्टि की है कि विधानसभा चुनाव में उम्मीदवार अशोक राम या उनके परिवार के किसी करीबी सदस्य को मैदान में उतारने की उसकी योजना है।

राजद पार्टी के सूत्रों ने कहा कि दोनों सीटों पर चुनाव लड़ने का फैसला विधानसभा सीटों पर महागठबंधन में शामिल कांग्रेस के निराशाजनक प्रदर्शन के कारण लिया गया है। विधानसभा चुनाव में कांग्रेस के हिस्से में 70 सीटें थीं लेकिन उनमें से जीत सिर्फ 20 सीटों पर ही मिली थी।

पार्टी के अति पिछड़ा प्रकोष्ठ के राष्ट्रीय महासचिव निखिल आनंद ने राजद पर इसी बहाने कांग्रेस को उसकी हैसियत बताने का आरोप लगाते हुए कहा, राजद पहले से ही इस बात को लेकर परेशान है कि कांग्रेस लगातार उसकी छत्रछाया से बाहर निकलने के लिए मशक्कत कर रही है। कांग्रेस द्वारा कन्हैया कुमार को पार्टी में शामिल कराना इसी रणनीति का हिस्सा है। कन्हैया के कांग्रेस में आने के बाद से राष्ट्रीय जनता दल बहुत ज्यादा हकलान महसूस कर रही है।

उन्होंने आरोप लगाया, ऐसा नहीं है कि राजद ने कांग्रेस की उपेक्षा की है बल्कि राजद ने यह ठान लिया कि तेजस्वी यादव किसी भी तरह से कन्हैया के साथ मंच साझा नहीं करना चाहिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

5 कारें जो बन सकती हैं आपकी पहली पसंद: माइलेज, मेंटेनेंस से सेफ्टी रेटिंग तक, आपके बजट पर खरी उतरेंगी ये कारें; अभी ट्राइबर...

5 कारें जो बन सकती हैं आपकी पहली पसंद: माइलेज, मेंटेनेंस से सेफ्टी रेटिंग तक, आपके बजट पर खरी उतरेंगी ये कारें;...

महंगाई का मार: इस महीने अब तक 7वीं बार बढ़े पेट्रोल-डीजल के दाम, दिल्ली में पेट्रोल 103.54 और डीजल 92.12 रुपए पर पहुंचा

महंगाई का मार: इस महीने अब तक 7वीं बार बढ़े पेट्रोल-डीजल के दाम, दिल्ली में पेट्रोल 103.54 और डीजल 92.12 रुपए पर...

RBI की मॉनेटरी पॉलिसी LIVE: रिजर्व बैंक ने ब्याज दरों में नहीं किया कोई बदलाव, रेपो रेट 4% पर और रिवर्स रेपो रेट 3.35%...

RBI की मॉनेटरी पॉलिसी LIVE: रिजर्व बैंक ने ब्याज दरों में नहीं किया कोई बदलाव, रेपो रेट 4% पर और रिवर्स रेपो...

लालू की पाठशाला: पार्टी कार्यकर्ताओं से कहा- आंदोलन करो-जेल भरो, मुकदमा से मत डरो

लालू की पाठशाला: पार्टी कार्यकर्ताओं से कहा- आंदोलन करो-जेल भरो, मुकदमा से मत डरो   सार लालू प्रसाद मंगलवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के...

Recent Comments